Monday, August 9, 2010

विधायक की मौज, जनता की मौत













आप हैं वैशाली नगर, भिलाई विधानसभा के विधायक श्री भजन सिंग निरंकारी जी । आप एक बेहद काबिल, कर्मठ और जनता के प्रति पूरी तरह से समर्पित नेता नजर आते हैं । आपकी विशेषता है नकारात्मक सोच । अगर आप इनसे कहैं कि भइया हमारे मार्केट में हाईमास्क लाइट चाहिये तो कहते हैं कि उसकी क्या जरूरत है । बताओ कि भइया हमारे मार्केट में पानी की समस्या है तो कहते हैं कि पानी वाली बाई तो सालों से मार्केट में पानी ला रही है, क्यों गरीबों को भुखे मारना चाहते हो । शिकायत करो कि फल-सब्जी के ठेले वाले लोगों के कारण मार्केट का यातायात अव्यवस्थित हो रहा है । तो आप फरमाते हैं कि मैं गरीबों की हाय नही लूंगा ।

                                         अब आप सोचें कि ये विधायक महोदय कि बातें तो पूरी तरह से हमदर्दी वाली हैं लेकिन काम क्या है ? इन्हे पूरी तरह से मालूम है कि इन्होने चाहे जो भी काम किये हों एक काम इतना बुरा किये हैं कि लोगों की जानें जा रही हैं । जिसका सबसे ताजा शिकार 8 अगस्त की सुबह 10 बजे एक गरीब रिक्शावाला हुआ है । दरअसल  इन्होनें राष्ट्रीय राजमार्गक्रमांक 6 में भिलाई में बनी फोरलेन को भिलाई की बसंत टाकीज के सामने से तोड दिये हैं ताकि लोग आसानी से अपने वाहनों को सडक के आर पार ले जा सकें, लेकिन हो ये रहा है कि लोग लापरवाही से ज्यों ही सडक के इस भाग से उस ओर निकलते हैं दुसरी ओर से आ रहे तेज रफ्तार वाहन उनसे टकरा जाते हैं । इसमें गलती चालक की नही होती है क्योंकि वह सडक बीच से इस तरह टुटी है कि पता ही नही चलता है कि वहां से कोई रास्ता खुला हुआ है ।
                                               अब कोई इन विधायक महोदय को समझाए कि महोदय गरीबों का भला तभी हो पाएगा जब वह जिंदा रहेगा । अगर ऐसे ही उस अवैध रास्ते में लोग मरते रहे तो किसका भला होगा ये आपसे ज्यादा अच्छी तरह से कोई नही समझा सकेगा ।