Tuesday, November 16, 2010

भिलाई निगम चुनाव- भाजपा को झटका लगने को है भाई

वैशाली नगर विधानसभा में नगर निकाय चुनावों की तैय्यारीयों के लिये प्रशासन तो तैय्यार हो रहा है लेकिन उम्मीदवारों के लिये हर दल में दंगल मचा हुआ है । चूंकि महापौर पद पिछडे वर्ग की महिला हेतू आरक्षित हो गया है सो और भी ज्यादा मुश्किलों का सामना कर पड रहा है । भिलाई नगर विधानसभा के कांग्रेस विधायक बी.डी.कुरैशी  की यदि मानी जाए तो उनके अनुसार पार्टी इस बार केवल प्रत्याशी की तलाश नही कर रही है बल्कि जीतने वाले प्रत्याशी का चयन कर चूकी है जिसका नाम आखिरी समय में उजागर किया जाएगा ताकि दुसरे दलों को संभलने का मौका ना मिल सके । जिले में प्रदेश स्तरीय  क्षेत्रिय पार्टी स्वाभिमान मंच के संस्थापक ताराचंद साहू अपने जातिगत वोटों की चाह में हेमलता साहू को अपना उम्मीदवार बना सकते है जबकि भाजपा में श्रीमती टी.जयारेड्डी  और श्रीमती अनिता साहू को प्रबल दावेदार माना जा रहा है किंतु विश्वसत सूत्रों की माने तो भिलाई इस्पात संयंत्र से सेवानिवृत एक प्रमुख अधिकारी की पत्नि की सशक्त दावेदारी बनने की उम्मीद है जिसे भाजपा अपना ट्रंप कार्ड बता रही है क्योकि उक्त महिला के मायके और ससुराल दोनो पक्षों की राजनीती और प्रशासनिक पकड बहुत मजबूत है । 
             कांग्रेस के लिये  इस चुनाव में कोई मुद्दा महत्वपूर्ण नही है क्योंकि उनके अनुसार बीजेपी हर बार की तरह इस चुनाव को अपनी अंदरूनी लडाई  की वजह से स्वयं को ही हरा लेगी । भाजपा नें अपने कार्यकाल में कोई भी ऐसा काम नही करी जिससे आम जनता के हित को लाभ पहुंचा हो । केवल अपने अधिकार को जताने वाले महापौर का निकम्मापन तो एक कारण है ही लेकिन  सफाई कार्य ठेके पर दिया गया  जिसकी वजह से किसी भी शिकायत का कोई भी असर निगम अधिकारीयों पर नही पडता है । बजबजाती नालीयां और ठहरे पानी की भरमार की वजह से पूरे क्षेत्र में मच्छरों की ऐसी बाढ आ गई है कि पूरा निगम क्षेत्र के रहवासी हलाकान है लेकिन निगम को कोई परवाह नही होती क्योकि उनका कमीशन बराबर पहुंचता रहता है । हर वार्ड में सौंदर्यीकरण के तहत फव्वारे लगाये गये लेकिन उनकी दुर्गती देखने के लिये आपको उन जगहों पर जरूर जाना चाहिये जो उद्घाटन के पहले ही उजडे से लग रहे हैं । पार्क बनाने की योजना पर काम चला पर निगम के महत्वपूर्ण बाजारों में पार्किंग की कोई व्यवस्था नही की गई । बानगी देखिये कि पावर हाऊस मार्केट जो अपने में चार बडे बाजारों को समाहित करता है जवाहर मार्केट, लिंक रोड  मार्केट, ओल्ड सरकुलर मार्केट औऱ सुभाष सब्जी मंडी में एक भी पार्कींग निगम नें नही दी है । व्यापारी अपने दुकानों के सामने ही अपने वाहन लगाते हैं और ग्राहकों को वाहन लिये लिये ठिकाने ढुंढना पडता है । मुख्यमंत्री रमन सिंह के द्वारा 311 करोड रूपये के निर्माण कार्य जनता को सौंपे गए लेकिन जनता को उन रूपयों के लायक कोई उपयोगी जगह नही लगने की वजह से भ्रष्टाचार नजर आ रहा है । आम जनता का नकारात्मक रूख  भिलाई नगर पालिक निगम में इस बार भाजपा को करारी हार दे सकता है ।
संभावित प्रत्याशी  कांग्रेस के    - नीता लोधी, प्रतिमा चंद्राकर, गुरमीत धनई
संभावित प्रत्याशी भाजपा         -  टी. जया रेड्डी, अनिता वर्मा,  
संभावित प्रत्याशी छ.स्वा.मंच    - हेमलता साहू    

                                           यकिनन चुनावी परिणाम गुटबाजी पर ही केन्द्रित होंगे जिस दल में जितनी मजबूत गुटबंदी दुसरे दल की उतनी बढती जीत की उम्मीद । भाजपा को नुकसान पहुंचाने वाला महत्वपूर्ण तथ्य - पूर्व विधानसभा अध्यक्ष व उनके राजनीतीक गुरू को नजरअंदाज करना भाजपा प्रदेश के लिये अब नुकसानदेह सिद्ध हो रहा है जिसका एक घातक परिणाम विधानसभा चुनाव में दिख चुका है । मुख्यमंत्री रमन सिंह की छबी भले अच्छी हो लेकिन निगम कामों के लिये जनता उनके पास तो नही जाएगी ।।।  है ना -